जल्द ही पिता बनने वालों के लिए कुछ टिप्स

0
451

मुझे बहुत ख़ुशी होती है जब पिता बनने वाले पुरुष मुझे प्रसवपूर्व क्लास बुक करने के लिए कॉल करते हैं और कहते हैं,

“हम गर्भवती हैं।”

जी हाँ!!

पिता भी उतने ही गर्भवती होते हैं जितनी की माँ।

अंतर सिर्फ इतना है कि शिशु उनके गर्ब में नहीं होता है।

अगर आप भी पिता बनने वाले हैं – गर्भावस्था महसूस करें और इसमें हिस्सा लें। माँ बनने वाली आपकी पार्टनर और दिन-प्रतिदिन बढ़ते हुए आपके बच्चे को आपकी ज़रूरत है।

पिता बनने वालों के लिए यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं

  • हमारे साथ जुड़े रहें और अपनी भावनाओं को शेयर करें।

यह पता चलना कि आप गर्भवती हैं, काफी रोमांचक होता है। लेकिन ये भावना यह कई बार भावुक भी कर देती है।

उन चीज़ों के लिए ख़ुशी मनाएं जिनके लिए आप उत्साहित हैं और उन चीजों के लिए तैयारी करें और प्लान बनाए जो आपको परेशान कर रही हैं।

पहले कुछ हफ्तों के दौरान, गर्भवती माँ हर समय थका हुआ महसूस कर सकती है।

घर में उनकी मदद करें ताकि गन्दा घर और अधूरे काम देख कर उन्हें तनाव न हो।

  •  घबराहट की हालत में आप उनकी जितनी मदद कर सकते हैं उतनी करें।

गर्भावस्था के दौरान किसी भी गंध से घबराहट हो सकती है।

जितना हो सके खाना पकाने की जिम्मेदारी ले लें या फिर किसी बावर्ची को नौकरी पर रख लें।

उन स्नैक्स को खरीद कर जमा कर लें जिसमें से कोई महक नहीं आती।

बदबू को कम करने के लिए घर को साफ रखें।

  • डॉक्टर के पास जाते समय उनके साथ रहें।

गर्भावस्था के दौरान डॉक्टर के पास जाना माताओं के लिए बेहद तनावपूर्ण होता है।

सुनिश्चित करें कि आप उनके साथ हर बार अस्पताल जाएं।

  • प्रसवपूर्व की क्लास लें

प्रसवपूर्व की क्लास ज़रूरी और अनमोल है क्योंकि यह आपको यह समझाने में मदद करती है कि आप गर्भावस्था की प्रक्रिया का हिस्सा कैसे बन सकते हैं और ज़रूरत पड़ने पर आपको क्या करना चाहिए।

अगर आप गर्भावस्था और पेरेंटिंग का आनंद लेना चाहते हैं तो अपनी समझ और स्किल को तैयार करें।

  • दूसरी तिमाही में लगने वाली भूक का ध्यान रखें

दूसरी तिमाही में बहुत भूख लगती है।भरपूर मात्रा में हेल्दी स्नैक्स रखें।

माँ को जिन हंगर पैंग से बचना चाहिए, उनके बारे में ज़्यादा जानने के लिए इस ब्लॉग को पढ़ें।

गर्भवती महिलाओं के लिए व्यायाम करने के लिए प्रेरणा और ऊर्जा को बनाए रखना अक्सर मुश्किल होता है।

उनके व्यायाम दिनचर्या में उसका साथ दें और सुनिश्चित करें कि वह स्वास्थ्य रहें।

गर्भावस्था के दौरान रातों को नींद न आना एक बड़ी चुनौती है।

उनकी आरामदायक नींद में मदद करने के लिए, सांस लेने जैसे व्यायाम और उनकी मालिश करें जो आपने प्रसवपूर्व क्लास में सीखे हैं ।

  • अपने बच्चे के साथ जुड़ें

पेट पर सहलाते हुए अपने बच्चे के साथ रोज़ समय बिताएं।

उस समय का आनंद उठाएं जब आपका बच्चा पेट में हरकते करें।

अपने बच्चे से हर दिन बात करें और उसके लिए पढ़ें।

  • खरीदारी करें

एक सूची तैयार करें– वेबसाइट पर जाएँ और गर्भावस्था के दौरान और बच्चा पैदा होने के बाद जीवन को आरामदायक बनाने के लिए क्या सामान ज़रूरी होगा, इन चीज़ों को खरीदें या बुकमार्क कर लें।

  • बीमा और अन्य कागजी कार्रवाई की जाँच करें

अस्पताल में आराम से रहने के लिए आपको कई चीज़ों का ध्यान रखना होगा। सभी जरूरी कागजी कार्रवाई पहले से ही कर लें। आखिरी मिनट के लिए कुछ भी न बचाएँ।

  • अपने रहने की जगह व्यवस्थित करें

स्तनपान और डायपर बदलने जैसे आवश्यकताओं का ध्यान रखने के लिए अपने रहने की जगह को उसी अनुसार बनाएं।

  • प्रसव-काल के समय उनका साथ दें

जब प्रसव का दिन आए, तो उस समय के दौरान तनाव और बेचैनी को कम करने के लिए, प्रसवपूर्व क्लास के दौरान आपने जो कुछ सीखा है उनका पालन करें।

आज की इस नई सदी में पिता केवल रक्षक और प्रबंधक की भूमिका नहीं निभा सकते। पिता को भी परवरिश करने वाले की भूमिका निभानी चाहिए। और इसे जल्दी ही अपनाना बहुत ज़रूरी है।

हमेशा याद रखें कि आप बहुत ज़रूरी हैं।

पेरेंटिंग का आनंद लें!

डॉ. देबमिता दत्ता एमबीबीएस, एमडी

द्वारा

डॉ. देबमिता दत्ता एमबीबीएस, एमडी एक व्यावसायिक डॉक्टर, एक पेरेंटिंग कंसल्टेंट, और डब्ल्यूपीए whatparentsask.com की संस्थापक हैं, वह स्कूलों और कॉर्पोरेट संगठनों के लिए पेरेंटिंग पर ऑनलाइन और ऑफलाइन वर्कशॉप आयोजित करती हैं। वह ऑनलाइन और ऑफलाइन प्रसवपूर्व और शिशु देखभाल के लिए क्लास भी संचालित करती हैं। वह पालन-पोषण में एक प्रसिद्ध विचार-नेता और खेल, सीखने और खाने की आदतों की विशेषज्ञ हैं। वह जगरनॉट बुक्स द्वारा प्रकाशित पालन-पोषण पर 6 पुस्तकों की लेखिका हैं और उनकी पुस्तकें उनकी सबसे अधिक पढ़ी जाने वाली पुस्तकों में से हैं। पालन-पोषण के प्रति उनके सहानुभूतिपूर्ण और करुणामय दृष्टिकोण और पेरेंटिंग के लिए शरीरक्रिया विज्ञान और मस्तिष्क विज्ञान के उनके अनुप्रयोग के लिए उन्हें अक्सर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशनों में उद्धृत किया जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here